स्किल इंडिया मिशन क्या है | Skill India Misssion kya hai in Hindi

स्किल इंडिया मिशन क्या है | Skill India Misssion kya hai in Hindi

स्किल इंडिया मिशन क्या है | Skill India Misssion kya hai in Hindi

स्किल इंडिया मिशन क्या है | Skill India Misssion kya hai in Hindi – तो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में बात करेंगे स्किल इंडिया मिशन के बारे में और जानने की कोशिश करेंगे की ये स्किल इंडिया मिशन आखिर में है क्या और इस स्किल इंडिया मिशन के लाभ क्या है तथा इस स्किल इंडिया मिशन के उद्देश्य क्या है , तो दोस्तों अगर आप भी इस स्किल इंडिया मिशन के बारे में जानने की इच्छा रखते है , तो बने रहिए हमारे साथ इस आर्टिकल के अंत तक ताकि आप सभी के ज्ञान में और भी ज्यादा वृद्धि हो और आप कुछ नया सीख कर अपने जीवन में इस्तेमाल कर सखे। तो दोस्तों चलिए अब जानने की कोशिश करते है कि ये स्किल इंडिया मिशन आखिर में है क्या और इस स्किल इंडिया मिशन के लाभ क्या है तथा इस स्किल इंडिया मिशन के उद्देश्य क्या है :-

स्किल इंडिया मिशन क्या है ?

तो दोस्तों हम बात कर रहे है स्किल इंडिया मिशन के बारे में , इस स्किल इंडिया मिशन के अंतर्गत चार अन्य योजना शामिल की गई है जो कि क्रमश :

राष्ट्रिय कौशल विकास मिशन, कौशल विकास और उद्यमिता के लिए राष्ट्रिय नीति, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना और कौशल ऋण योजना आदि है। ये स्किल इंडिया मिशन कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के तहत काम को अपने आजम तक पहुँचाता है। यह स्किल इंडिया मिशन बेरोजगार युवाओं को कुशलता प्रदानकर रोजगार दिलाने का कार्य करता है।

इस स्किल इंडिया मिशन की शुरूआत 15 जुलाई 2015 को अंतर्राष्ट्रीय युवा कौशल विकास दिवस के अवसर पर हमारे देश के माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गई थी। इस स्किल इंडिया मिशन की शुरूआत चूकि अंतर्राष्ट्रीय युवा कौशल विकास दिवस के अवसर पर हुई थी इस लिए इस स्किल इंडिया मिशन का दूसरा नाम राष्ट्रिय कौशल विकास योजना रखा गया है यानी के इस स्किल इंडिया मिशन को राष्ट्रिय कौशल विकास योजना के नाम से भी जाना जाता है।

इस राष्ट्रिय कौशल विकास योजना के तहत सरकार कम पढ़े-लिखे युवाओ को प्रशिक्षण देगी। हमारे भारत देश की सरकार का ये लक्ष्य है कि आने वाले कुछ सालो में करीब एक करोड़ युवाओ को इस राष्ट्रिय कौशल विकास योजना की मदद से प्रशिक्षण देना है। ये राष्ट्रिय कौशल विकास योजना ना केवल घरेलू बाजार तक ही सीमित है , बल्कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भी रोजगार प्राप्त करने के लिए सहायक है। ये राष्ट्रिय कौशल विकास योजना भारतीय युवाओं को उद्योग सम्बंधित प्रशिक्षण लेने के लिए सक्षम बनाती है, ताकि उन्हें बेहतर आजीविका हासिल करने में मदद किया जा सके।

स्किल इंडिया मिशन के लाभ

इस स्किल इंडिया मिशन के निम्न लाभ है जिन्हे हमने एक लिस्ट के माध्यम से नीचे कि ओर दर्शाए है , तो दोस्तों आईये जानते है कि ये स्किल इंडिया मिशन के आखिर कौन-कौन से लाभ है :-

  • इस स्किल इंडिया मिशन के तहत कोई फीस नहीं देनी होती है।
  • इस स्किल इंडिया मिशन के द्वारा सरकार प्रशिक्षित युवाओं को रोजगार दिलाने में सहायता करती है।
  • इस स्किल इंडिया मिशन के अंतर्गत युवाओ को प्रशिक्षित करके भारत में बेरोजगारी की समस्या को हल करने में मदद मिलेंगी।
  • इस स्किल इंडिया मिशन के तहत प्रशिक्षण पाने वाले युवाओं को ₹2 लाख रुपए का व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा मिलेगा जो यह सिर्फ 3 सालो के लिए होगा।
  • इस स्किल इंडिया मिशन के अंतर्गत युवाओं में छिपे हुए हुनर को बढ़ावा मिल रहा है।

स्किल इंडिया मिशन की कुछ सामान्य जानकारी

Scheme name ( योजना का नाम )स्किल इंडिया मिशन
Who started ( किसने आरंभ की )हमारे देश के माननीय प्रधान मंत्री जी श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना को आरम्भ किया है।
Beneficiary ( लाभार्थी )भारत देश के नागरिक
Purpose ( उद्देश्य )इस स्किल इंडिया मिशन की मदद से सामाजिक जागरूकता पैदा करना व युवाओं के बीच कौशल के मूल्य का प्रचार करना है।
Official website ( आधिकारिक वेबसाइट )Click Here
Year ( साल )2022
Application Type ( आवेदन का प्रकार )ऑनलाइन / ऑफलाइन दोनों से ही आप आवेदन कर सकते हो
State ( राज्य )ये स्किल इंडिया मिशन पुरे भारत देश के राज्यों में लागू किया गया है।

स्किल इंडिया मिशन के उद्देश्य

इस स्किल इंडिया मिशन के निम्न उद्देश्य है जिन्हे हमने एक लिस्ट के माध्यम से नीचे कि ओर दर्शाए है , तो दोस्तों आईये जानते है कि ये स्किल इंडिया मिशन के आखिर कौन-कौन से उद्देश्य है :-

  • इस स्किल इंडिया मिशन का उद्देश्य उन गरीब बच्चों के कौशल को उभारना है, जिन्होंने किसी कारणवश अपनी पढाई बीच में ही छोड़ दी है।
  • योजनाबद्ध तरीको से गरीब और गरीब युवाओं के कौशल को सही दिशा में प्रशिक्षित करके गरीबी का उन्मूलन करना।
  • देश में युवा बेरोजगारी को दूर करने के लिए युवाओं को प्रशिक्षित कर युवाओं को रोजगार योग्य बनाने के लिए एक व्यवस्था का निर्माण करना है।
  • गैर संगठित क्षेत्र में कौशल विकास के लिए क्षमता का विकास करना और इन पहचाने गए क्षेत्रो में फिर से कौशल और उप कौशल के लिए मार्ग प्रदान करना।
  • कौशल विकास के साथ उद्यमिता और मूल्य संवर्धन को बढ़ावा देना।
  • सभी तकनीकी संस्थानों को विश्व की बदलती तकनीकी के साथ गतिशील बनाना।
  • भारत की 65% आबादी जो 35 वर्ष से कम है , उनके कौशल को प्रशिक्षित करके वैश्विक पटल पर मजबूती के साथ कुशल युवा शक्ति के रूप में उभारना।
  • देश के वे युवा जो परम्परागत रूप से अपनी कौशल को जानते हैं (जैसे – बाल काटना, कपडे सिलना, गाड़ी चलाना, साफ-सफाई करना, मैकेनिक का काम इत्यादि।) उनको नई तकनीकी के साथ प्रशिक्षित कर वैश्विक स्तर का कौशल प्रदान करना, ताकि वे कही भी रोजगार पा सकें।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

Your email address will not be published.