रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein

रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein

रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein

दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे के रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein , और इससे कैसे इस्तेमाल करते हैं और इसकी क्या ज़रूरत होती हैं रेफेरल कोड कहा पर इस्तेमाल किया जाता हैं। दोस्तों यह आर्टिकल आपके लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होने वाला है क्योंकि इस आर्टिकल में हम आपको रेफरल कोड के बारे में संपूर्ण जानकारी देंगे तो इस आर्टिकल को आखिरी तक जरूर पढ़ें।

रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein
रेफरल कोड क्या होता हैं | Referral Code Kya Hota Hain Hindi Mein

दोस्तों जब भी हम कोई शॉपिंग करते हैं या फिर हम कहीं किसी आनलाइन एप से कुछ सामान खरीदते हैं या ऑनलाइन कंपनी या फिर ऑनलाइन पेमेंट वाली एप से कुछ करते हैं तो वो हमे एक रेफरल कोड प्रोवाइड करती है कभी-कभी किसी ऑफर के अंदर ।

रेफरल कोड क्या होता है?

रेफरल कोड जो होता है वह लिंक की तरह ही होता है , रेफरल कोड के अंदर अल्फाबेट और नंबर का मिश्रण होता है , कभी-कभी तो रैफरल कोड के अंदर कस्टमर का नाम भी आ जाता है रेफरल कोड एक unique key की तरह होता है ।

इस तरह के रेफरल कोड आमतौर पर कंपनी के द्वारा अपने कस्टमर को प्रोमो कोड के रूप में दिया जाता है , जब कोई कस्टमर किसी कंपनी से ऑनलाइन शॉपिंग करता है तो वह कंपनी उसे रेफरल कोड प्रोवाइड करती है जो वह अपने किसी दोस्त के साथ साझा कर सकता है और उससे डिस्काउंट हासिल कर सकता है ।

रेफरल कोड एक तरह का डिस्काउंट होता है जो कंपनी अपने कस्टमर को देती है ताकि वह कस्टमर आइए फिर उसी कंपनी से शॉपिंग करें या फिर अपने किसी दोस्त को दे तो उसे भी उस से डिस्काउंट लेकर वह कंपनी अपने कस्टमर बढ़ाती है यह बिजनेस का एक तरीका है । जिस से कंपनी की मार्केटिंग भी होती है ।

और आपको आसान भाषा में समझाने के लिए हम आपको एक उदाहरण देते हैं जैसे आपने मनी ट्रांसफर के लिए एक ऐप डाउनलोड करा जिस का नाम Google pay है आप अगर Google Pay के नए ग्राहक हैं तो गूगल पर आपको शुरू में अपने से जोड़े रखने के लिए वह आपको नए-नए डिस्काउंट देगा कभी वह आपको कैशबैक देगा तो कभी आपको रेफरल कोड देगा रेफरल कोड में वहां आपके साथ ऐसा करेगा कि वहां आपको कहेगा कि अगर आप यह रेफरल कोड आपके किसी फ्रेंड के साथ साझा करते हैं तो उसे भी एप डाउनलोड करने पर कुछ पैसे मिलेंगे और आपको भी कुछ पैसे मिलेंगे अगर आपके किसी मित्र ने आपके रेफरल कोड से उस ऐप को डाउनलोड करा है तो।

आज के समय में वह 1 दिन से आप शॉपिंग करते हैं वह आपको रेफरल कोड देंगे ही जिस से उनकी मार्केटिंग भी होती है और उन्हें मुनाफा भी होता है और आपको भी उसका फायदा मिलता है वहां आपको रेफरल कोड देगी जिसके जरिए अगर आप कुछ खरीदेंगे तो आपको उसमें डिस्काउंट मिलेगा । और यह मार्केटिंग का एक काफी फायदेमंद तरीका है । अगर आप आपकी ऐप लॉन्च करना चाहते हैं या फिर आपके कस्टमर बढ़ाना चाहते हैं ज्यादा किसी इन्वेस्टमेंट के तो आप रेफरल कोड का इस्तेमाल कर के भी ऐसा कर सकते हैं और यह एक टेक्निक है मार्केटिंग की।

रेफरल कोड क्यों इस्तेमाल करते हैं?

जैसे कि ऊपर के पैराग्राफ में हम आपको बता चुके हैं कि रेफरल कोड के जरिए इसे कम पाए नहीं अपनी मार्केटिंग करती है यह मार्केटिंग इसलिए होती है कि कंपनी अपने कस्टमर को अपने से जुड़े रखें जब कस्टमर एक बार आपके पास आ जाता है तो अगर आप उसको उसका कुछ फायदा दिखाएंगे तो वहां आपकी कंपनी से और ज्यादा जुडगा और वहां जिस से आपको भी मुनाफा होगा ।

और रेफरल कोड के जरिए से एक इंसान से दूसरे इंसान तक वह ऐप जाती है जिस से ऐप की मार्केटिंग होती है बहुत सारी अपने रेफरल कोड को शेयर करवा करवा कर अपना बहुत ज्यादा मुनाफा कमाया है वह अपने कस्टमर को रेफरल कोड देती जो वह उसे अपने किसी मित्र के साथ साझा करना होता था जिस से कस्टमर का और उसके मित्र का फायदा होता था जिस से एक कस्टमर से दो और दो से 10 बन जाते है ।

इसी तरीके का इस्तमाल आज हर ई-कॉमर्स एप्लीकेशन कर रही है , जिस से वह अपने बहुत ज्यादा कस्टमर इकट्ठा कर रही है और यही टेक्निकल पर चलकर भारत की बहुत मशहूर एप्स Bharat – pay ने भी यही करा था ।

और और वह एप्लीकेशन जिनसे आप ऑनलाइन खाना मंगवाते हैं जैसे Zomato Swiggy यह सब इसी तरह के रेफरल कोड का इस्तेमाल करते हैं और अपने कस्टमर को हर दिन कुछ ना कुछ ऑफर देती रहती हैं जिनसे वह आर्डर करते हैं कभी वहां उन्हें किसी ऑर्डर पर डिस्काउंट देती है जिस से उनका कस्टमर उसी ऐप से अपना आर्डर करता है।

यह भी पढ़े:

रेफेरल कोड कैसे बनाये ?

जब रेफरल कोड बनाने की बात आती है तो इसके अंदर कोई सही या गलत तरीका नहीं है हमने जैसे आपको पहले बता चुके हैं कि रेफरल कोड एक नंबर और डिजिटल का मिश्रण होता है जो कोई कंपनी अपने ग्राहक को देती है ।
अगर आप आपकी कंपनी के लिए रिफेरल कोड का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आपके लिए सबसे बेहतर तरीका यही है कि आप ऑटोमेटिक जनरेट करने वाली रेफरल कोड वाली एप्लीकेशन से वहां कर सकते हैं।
रेफरल कोड के लिए सबसे ज्यादा आसान तरीका यह भी हो सकता है कि आप QR code का इस्तेमाल करें । आज क्यू आर कोड हर मोबाइल से स्कैन हो जाता है और यह आयोजन के लिए एक भरोसेमंद भी होता है और इसके अंदर यूजर जल्दी से एक्सेस कर सकता है ।

रेफरल कोड कैसे काम कर ता हैं?

अगर हम ई–कॉमर्स की बात करें तो यह आमतौर पर डिस्काउंट का ही होता है ।
जब कस्टमर वेब्स से ऑनलाइन शॉपिंग करता है तो उसे वहां डिस्काउंट देता है और यहां होने का रेफरल कोड होता है।
लेकिन अलग-अलग तरह के बिजनेस के अलग-अलग तरीके होते हैं रेफरल कोड के लेकिन आमतौर पर यही होता है कि डिस्काउंट देते हैं या फिर कैश बैक।

bse55.in

Leave a Comment

Your email address will not be published.