Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning

Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning

Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning

Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning – तो दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning के बारे में बताने वाले है तो आर्टिकल ध्यान से पढ़ियेगा ताकि आपको इसके बारे में सारी जानकारी प्राप्त हो सके तो आइये जानते है, Qab Charges in PNB in Hindi l Full Form and Meaning

पहले वर्ष में 15 लॉकर विजिट फ्री होता था। उसके बाद प्रति विजिट ग्राहक को ₹100 देना होता था। अब फ्री विजिट की संख्या को घटाकर 12 कर दिया गया है। खाता खुलने के बाद करंट अकाउंट को 14 दिन से 12 महीने के बीच में बंद करते हैं तो ₹800 चुकाने होंगे।

पंजाब नेशनल बैंक (PNB) के ग्राहक ध्यान दें. पीएनबी ने अपनी कई बैंकिंग सर्विस (PNB Charges) से चार्ज में वृद्धि की है। यह नई वृद्धि 15 जनवरी से अमल में आ रही है। बाद में आपको बैंकिंग चार्ज और फीस को लेकर कोई असमंजस न रहे, इसलिए इसके बारे में पहले ही जानकारी ले लेनी चाहिए। पंजाब नेशनल बैंक (Punjab National Bank) ने इस नई बढ़ोतरी के बारे में अपनी वेबसाइट पर जानकारी प्रदान की है। वेबसाइट के अनुसार, क्वार्टरली एवरेज बैलेंस Quarterly Average Balance (QAB) की नॉन-मेंटीनेंस लिमिट मेट्रो एरिया में ₹5,000 से बढ़ाकर ₹10,000 कर दी गई है।

पीएनबी ने बताया है कि ग्रामीण इलाकों एवं अर्ध शहरी इलाकों में मिनिमम बैलेंस के नॉन मेंटीनेंस चार्ज को प्रति तिमाही 200 रुपये से बढ़ाकर 400 रुपये कर दिया गया है। शहरी एवं मेट्रो शहरों के लिए यह चार्ज 300 रुपये से 600 रुपये कर दिया गया है। ग्रामीण एवं शहरी दोनों क्षेत्रों के लिए लॉकर चार्ज को बढ़ा दिया गया है। इससे बढ़ोतरी से सिर्फ एक्स्ट्रा लार्ज लॉकर को छूट दी गई है। शहरी एवं मेट्रो शहरों के लॉकर चार्ज 500 रुपये तक बढ़ा दिए गए हैं।

लॉकर चार्ज में कितनी बढ़ोतरी

पहले वर्ष में कुछ खास संख्या तक लॉकर विजिट को फ्री रखा गया था. एक वर्ष में 15 लॉकर विजिट के लिए कोई पैसा नहीं देना होता था। 15 विजिट के बाद यदि ग्राहक अपना लॉकर देखते थे तो उन्हें प्रति विजिट ₹100 देना होता था। पर 15 जनवरी से इसका नियम बदलने जा रहा है। अब साल में 12 लॉकर विजिट फ्री होंगे। उसके बाद जितनी बार ग्राहक लॉकर देखेंगे, उन्हें प्रति विजिट के लिए ₹100 चुकाने होंगे।

करंट अकाउंट के नियम में बदलाव

करंट अकाउंट के नियम में भी बदलाव किया गया है। यदि कोई ग्राहक अपने करंट अकाउंट को खाता खुलने से 14 दिन से 12 महीने के बीच में बंद करता है तो उसे अब 800 रुपये चुकाने होंगे। पहले यह राशि ₹600 थी। हालांकि करंट अकाउंट को खुलने से 12 महीने बाद बंद करते हैं तो कोई चार्ज नहीं देना होगा। एक अलग नोटफिकेशन में PNB ने कहा है कि NACH डेबिट के रिटर्न चार्ज के रूप में प्रति ट्रांजेक्शन ₹250 लिए जाएंगे जबकि यह चार्ज पहले ₹100 था। इसका नया नियम 1 फरवरी 2022 से लागू हो रहा है।

डिमांड ड्राफ्ट का भी बदला रूल

डिमांड ड्राफ्ट के रेट में भी बदलाव किए गए हैं। डिमांड ड्राफ्ट का री-वैलिडेशन, कैंसिलेशन चार्ज, लॉस्ट इंस्ट्रूमेंट जारी करने का चार्ज एवं डुप्लीकेट ड्राफ्ट जारी करने का चार्ज पहले 100 रुपये होता था। पर अब इसे बढ़ाकर ₹150 कर दिया गया है। चेक के आउटवार्ड रिटर्निंग चार्ज के पैसे भी बढ़ा दिए गए हैं। 1 लाख तक के चेक का आउटवार्ड रिटर्निंग चार्ज पहले ₹100 था जिसे बढ़ाकर ₹150 कर दिया गया है। 1 लाख से ज्यादा के चेक का आउटवार्ड रिटर्निंग चार्ज पहले ₹200 था जिसे बढ़ाकर ₹250 कर दिया गया है। नया नियम 15 जनवरी से लागू होगा।

Qab चार्ज क्या होता है?

फुल फॉर्म QAB- Quarterly Average Balance तिमाही औसत बैलेंस है। QAB FULL FORM. Quarterly Average Balance किसी दिए गए तिमाही में बैंक खाते के सभी समापन दिवस शेष का औसत है। इसकी गणना किसी तिमाही में सभी समापन दिन की शेष राशि को जोड़कर एवं फिर तिमाही में दिनों की संख्या से विभाजित करके की जा सकती है।

यह भी पड़े :

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *