पीएम स्वनिधि योजना: PM Svanidhi Yojana kya hai in Hindi

पीएम स्वनिधि योजना: PM Svanidhi Yojana kya hai in Hindi

पीएम स्वनिधि योजना: PM Svanidhi Yojana kya hai in Hindi

पीएम स्वनिधि योजना: PM Svanidhi Yojana kya hai in Hindi – तो दोस्तों आज हम इस आर्टिकल में पीएम स्वनिधि योजना के बारे में बात करेंगे और जानने की कोशिशि करेंगे कि ये पीएम स्वनिधि योजना है क्या और इस पीएम स्वनिधि योजना के लाभ क्या है तथा इस पीएम स्वनिधि योजना के उद्देश्य क्या है , तो दोस्तों अगर आप भी इस पीएम स्वनिधि योजना के बारे में जानने की इच्छा रखते हो , तो फिर बने रहिए हमारे साथ इस आर्टिकल के आखिर तक। ताकि आपके ज्ञान में और भी ज्यादा वृद्धि हो और आप कुछ नया सीख सकें। तो चलिए दोस्तों अब हम इस पीएम स्वनिधि योजना के बारे में जानने की कोशिश करते है कि ये पीएम स्वनिधि योजना है क्या और इस पीएम स्वनिधि योजना के लाभ क्या है तथा इस पीएम स्वनिधि योजना के उद्देश्य क्या है :-

पीएम स्वनिधि योजना क्या है ? PM Svanidhi Yojana kya hai in Hindi

तो दोस्तों इस पीएम स्वनिधि योजना को रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगो के लिए शुरू की गई है ताकि ये लोग इस पीएम स्वनिधि योजना का लाभ लेकर के अपने कारोबार को और आगे कि लेकर के जा सके। रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या कोई सा छोटा-मोटा काम करने वाले लोग इस पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत बैंक से दस हज़ार रुपए ₹10000 तक का लोन ले सकते है। इस पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत लाभार्थी बैंक से पहली बार में मिले लोन को अगर सही समय पर लौटा दे तो बाद में दूसरी बार भी उस लाभार्थी को लोन इस पीएम स्वनिधि योजना के तहत दिया जाएगा।

इस पीएम स्वनिधि योजना का दूसरी बार लाभ लेने वाले लाभार्थी को अबकी बार ₹10000 दस हज़ार रुपए नहीं बल्कि ₹20000 बीस हज़ार रुपए दिए जायेंगे और अगर इस बार भी पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत लाभार्थी बैंक को सही समय पर पैसे वापस लौटा देता है तो भारत सरकार के द्वारा उसको अपना कारोबार बढ़ाने के लिए तीसरी बार फिर से लोन मिल सकता है और इस बार उसको ना तो ₹10000 दस हज़ार रुपए और ना ही ₹20000 बीस हज़ार रुपए दिए जायेंगे बल्कि उसको इस बार सीधे ₹50000 पच्चास हज़ार रुपए दिए जायेंगे।

इस पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगो को डिजिटल लेन-देन के लिए भी भारत सरकार प्रोत्साहित करेगी। इस पीएम स्वनिधि योजना के तहत रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगो को QR – Code का भी प्रशिक्षण देगी तथा साथ ही कैशबैक की भी सुविधा देगी।

पीएम स्वनिधि योजना में क्या बदलाव किए गए है

इस पीएम स्वनिधि योजना की खत्म सीमा मार्च 2022 तय की गई थी जिससे अब बड़ा कर के दिसंबर 2024 कर दी गई है। क्यों कि इस पीएम स्वनिधि योजना का लाभ केवल रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोग ही ले सकते थे लेकिन साल 2020 में कोविड – 19 के फैलने की वजह से पुरे भारत में लॉकडाउन लगा दिया गया था। जिसका सबसे ज्यादा बुरा असर रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले और अपना खुद का पेट भरने के छोटा-मोटा काम करने वाले लोगों पर पड़ा था। अब इन लोगो की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए सरकार ने जो योजना इन लोगो के लिए प्रारम्भ की थी उसकी समय सिमा ख़त्म होने वाली थी लेकिन भारत सरकार ने इस पीएम स्वनिधि योजना की समय सीमा बड़ा दी हैं।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार :- पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि ( पीएम स्वनिधि ) को दिसंबर 2024 तक बढ़ाया गया है। स्वनिधि से समृद्धि योजना के अंतर्गत अब तक विभिन्न योजनाओं से 16.7 लाख लाभार्थियों को फायदा मिला है। वेंडिंग जोन भी 5800 से बढ़ाकर 10500 कर दिए गए हैं।

इस के अलावा अगर आप और भी कुछ इस पीएम स्वनिधि योजना में किये गए बदलाव के बारे में जानना चाहते हो। तो फिर इस दी गई लिंक Click here पर क्लिक करें।

पीएम स्वनिधि योजना के लाभ

इस पीएम स्वनिधि योजना के निम्न लाभ है जिन्हे हमने एक लिस्ट के माध्यम से नीचे कि ओर दर्शाए है , तो दोस्तों आईये जानते है कि ये पीएम स्वनिधि योजना के आखिर कौन-कौन से लाभ है :-

  • इस पीएम स्वनिधि योजना के तहत लग-भग 50 लाख से भी ज्यादा रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगों तक लाभ पहुँचाना चाहती है भारत सरकार।
  • इस पीएम स्वनिधि योजना का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करके अपने अकाउंट वाले बैंक में जाकर के इस योजना के लिए आवेदन दे सकते है।
  • इस पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत ₹10000 दस हज़ार रुपए से लेकर के ₹50000 पच्चास हज़ार रुपए तक का लोन दिया जायेगा।
  • कोविड – 19 के फैलने की वजह से पुरे भारत में लॉकडाउन लगा दिया गया था जिस वजह से अच्छे से अच्छे अमीर आदमी की भी अर्थ व्यवस्था डग-मगा गई थी लेकिन रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगों को इस का ज्यादा नुकशान हुआ था। ये पीएम स्वनिधि योजना उनके कारोबार को आगे की ओर लेकर के जानें में मदद करेगी।

पीएम स्वनिधि योजना की कुछ सामान्य जानकारी

Scheme name ( योजना का नाम )पीएम स्वनिधि योजना
Who started ( किसने आरंभ की )हमारे देश के माननीय प्रधान मंत्री जी श्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना को आरम्भ किया है।
Beneficiary ( लाभार्थी )भारत देश के नागरिक
Purpose ( उद्देश्य )इस पीएम स्वनिधि योजना के तहत सरकार गरीब लोगो के कारोबार को आगे की ओर लेकर के जानें में मदद करेगी।
Official website ( आधिकारिक वेबसाइट )Click Here
Year ( साल )2022
Application Type ( आवेदन का प्रकार )ऑनलाइन / ऑफलाइन दोनों से ही आप आवेदन कर सकते हो
State ( राज्य )ये पीएम स्वनिधि योजना केन्द्र शासित प्रदेश में लागू की गई है।

यह भी पढ़े:

पीएम स्वनिधि योजना के लाभ क्या है ?

इस पीएम स्वनिधि योजना के निम्न लाभ है जिन्हे हमने एक लिस्ट के माध्यम से नीचे कि ओर दर्शाए है , तो दोस्तों आईये जानते है कि ये पीएम स्वनिधि योजना के आखिर कौन-कौन से लाभ है :-

1. :- इस पीएम स्वनिधि योजना के तहत लग-भग 50 लाख से भी ज्यादा रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगों तक लाभ पहुँचाना चाहती है भारत सरकार।
2. :- इस पीएम स्वनिधि योजना का लाभ लेने के लिए आप ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करके अपने अकाउंट वाले बैंक में जाकर के इस योजना के लिए आवेदन दे सकते है।
3. :- इस पीएम स्वनिधि योजना के अंतर्गत ₹10000 दस हज़ार रुपए से लेकर के ₹50000 पच्चास हज़ार रुपए तक का लोन दिया जायेगा।
4. :- कोविड – 19 के फैलने की वजह से पुरे भारत में लॉकडाउन लगा दिया गया था जिस वजह से अच्छे से अच्छे अमीर आदमी की भी अर्थ व्यवस्था डग-मगा गई थी लेकिन रेहड़ी पटरी पर सामान बेचने वाले या अन्य छोटा-मोटा काम करने वाले लोगों को इस का ज्यादा नुकशान हुआ था। ये पीएम स्वनिधि योजना उनके कारोबार को आगे की ओर लेकर के जानें में मदद करेगी।

पीएम स्वनिधि योजना में क्या बदलाव किए गए है ?

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर के अनुसार :- पीएम स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि ( पीएम स्वनिधि ) को दिसंबर 2024 तक बढ़ाया गया है। स्वनिधि से समृद्धि योजना के अंतर्गत अब तक विभिन्न योजनाओं से 16.7 लाख लाभार्थियों को फायदा मिला है। वेंडिंग जोन भी 5800 से बढ़ाकर 10500 कर दिए गए हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.