Oats Kya Hota Hai in hindi, Kaise Banta Hai bataye - ओट्स

Oats Kya Hota Hai in hindi, Kaise Banta Hai bataye – ओट्स

Oats Kya Hota Hai in hindi, Kaise Banta Hai bataye – ओट्स

इस लेख में हम आपको बतायेगे Oats Kya Hota Hai in hindi, Kaise Banta Hai bataye – ओट्स – ओट्स से जुडी हुई सही जानकारी क्यूंकि आज कल यह लोगो के खाने का हिस्सा है, तो चलो जानते है ओट्स के बारे में और उसकी नुट्रिशन्स के बारे में और इसे किस तरह बनाया जाता है |

Oats Kya Hota Hai l ओट्स क्या होता है ?

ओट्स एक अनाज की प्रजाति होती है। इसे हिंदी में जई (Oats) कहते है । ओट्स का उपयोग पहले सिर्फ जानवरों के लिए करा जाता था एवं जानवरों में भी ज्यादातर घोड़े को यह ओट्स दिया जाता है क्योंकि इसमें बहुत अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो की ऊर्जा का संचार करता है। पर वैज्ञानिकों के तहत ओट्स का परीक्षण किए जाने के बाद इसका उपयोग मनुष्यभी कर रहा है। इसमें कई सारे पोषक तत्व पाए जाते है।

दलिया एवं ओट्स में अंतर l Difference between Oats And Daliya

ओट्स को विदेशो से मंगवाया जाता है क्योंकि ओट्स भारत में नहीं पाया जाता है। ओट्स को हिंदी में जई कहते है एवं ओट्स से बने खाने को ओटमील कहते है। दलिया भारत में ही अनाज के द्वारा बनाया जाता है जिसकों हम पुराने समय से खाते आए है। दलिया गेहूँ से बनाया जाता है और इसे गेहूँ के आटे से भी अच्छा माना जाता है।

ओट्स के पोषक तत्व l Oats Nutrition in Hindi

हम यहाँ 100 ग्राम ओट्स में कितनी एनर्जी पाई जाती है, उसके बारे में चर्चा करेंगे-

एनर्जी360 kcal
प्रोटीन12 gm
कार्बोहाइड्रेट68 gm
फाइबर10 gm
फैट6 gm
पोटेशियम360 mg
कैल्शियम50.6 mg
आयरन4.25 mg

ओट्स को खरीदते समय इन बातों का ध्यान रखें-

  • इन्हे खरीदते वक़्त इस बात का जरूर ध्यान रखें कि ओट्स के अंदर शक्कर, नमक या फिर कोई भी अन्य कोई पदार्थ न मिलाया गया हो क्योंकि मिलावटी ओट्स के अंदर अक्सर ऐसा ही होता है।
  • यदि आप ज्यादा संख्या में ओट्स खरीद रहें है तो इसे डब्बे में अच्छे से पैक करके ठंडी जगह पर रख दें। इससे ओट्स 1 महीने तक पूरी तरह से फ्रेश रहेगें।
  • पैंकिग वाला ओट्स बेस्ट रहता है और वो भी किसी हेल्थ शाॅप से लिया हो तो ज्यादा बेहतर होता है।
  • ज्यादा संख्या में ओट्स न खरीदें क्योंकि इसमें वसा की मात्रा ज्यादा पाई जाती जिसकी वजह से ओट् जल्द ही खराब हो जाते है।

ओट्स के उपयोग एवं रेसिपीज l Uses and Recipes of Oats in Hindi

  • ओटमील का उपयोग बहुत सारी रेसिपी बनाने के लिए करा जाता है जैसे की ओटकुकीज, ओटकेक या फिर ओटब्रैड आदि।
  • इसका उपयोग बारीक आटे के रूप में करा जाता है। गेहूँ के अंदर ग्लूटिन की मात्रा पाई जाती है परन्तु ओट्स के अंदर ग्लूटिन की मात्रा नहीं पाई जाती है इसलिए जिन लोगों को ग्लूटिन से समस्या है वो इसका उपयोग आटे के रूप में कर सकते है।
  • कई लोग ओट्स को कच्चा खाना भी पसंद करते है। इसलिए वो लोग कच्चे ओट्स के कुकीज बनाकर इसका सेवन करते है।
  • ओट्स को दूध में मिलाकर इसे नाश्ते में खाया जाता है और इससे सूप भी बनाया जा सकता है।
  • जई (Oats) की खिचड़ी भी बनाई जाती है जिसको दाल एवं सब्जी के साथ खाया जाता है जो बच्चों एवं बड़ों की पसंदीदा होती है।

ओट्स के फायदे l Oats Benefits in Hindi

  • ओट्स में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण उपस्थित होते है जो की कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से निजात पाने के लिए रामबाण साबित हुई है। Oats में पाया जाने वाला ये गुण कैंसर को बढ़ाने वाली कोशिकाओं की संख्या को कम करता है। जिससे कैंसर में मरीज राहत मिलती है।
  • इसके अंदर बीटा-ग्लूकाॅन पाए जाते है जो ग्लाइसेमिक के प्रभाव को कम कर देते है एवं इंसुलिन सक्रिय होने लगते है जिससे की शुगर भी संतुलित रहती है।
  • Oats की हस्क का उपयोग करने से सेरोटोनिन स्तर में सुधार आता है जिससे नींद अच्छी आती है।
  • इसके अंदर मिलने वाले पोषक तत्वों की वजह से ये ऊर्जा बढ़ाने का बहुत बेहतर साधन होता है क्योंकि इसके अंदर विटामिन एवं फाइबर पाया जाता है जो की थकान को हमारे शरीर से दूर रखते है।
  • ओट्स के अंदर पाए जाने वाले कैल्शियम, मैग्नीशियम एवं प्रोटीन की वजह से ये हड्डियों को मजबूत बनाये रखता है।

Oats in Hindi

  • ओट्स का सेवन करने से कब्ज से भी राहत मिलती है। यदि आप ओट्स को भोजन में खाना पसंद नहीं करते है तो आप ब्रेड या फिर कुकीज के तौर पर इसको खा सकते है।
  • इसके पोषक तत्व त्वचा के लिए भी फायदेमंद साबित हुए है। इसका लगातार सेवन करने से मुंहासो, खुजली, बालों का झड़ना, रूसी आदि से निजात मिलती है।
  • ओट्स के अंदर घुलनशील फाइबर पाया जाता है जो पाचन क्रिया के लिए बहुत अधिक लाभकारी होता है।
  • इसमें पाए जाने वाले विटामिन B-6 एवं विटामिन B-12 तनाव को कम करते है जिससे दिमाग शांत रहता है। इसलिए ओट्स तनाव से राहत पाने के लिए भी बहुत कारगर है।
  • ओट्स इम्युनिटी के लिए भी कारगर है क्योंकि इसमें बीटा-ग्लूकाॅन भी पाए जाते है जो इंसुलिन को सक्रिय करने में सहायता करते है जिसकी वजह से बॉडी का इम्यून सिस्टम मजबूत बना रहता है।
  • Oats का सेवन कोलेस्ट्राॅल को कम करने के लिए भी लाभदायक है। इसका घुलनशील फाइबर कोलेस्ट्राॅल की समस्या को दूर करता है।
  • ब्लड प्रेशर की दिक्कत तो आजकल सभी को होती ही है। Oats का उपयोग करने से उच्च रक्तचाप की समस्या भी दूर हो जाती है।

ओट्स के नुकसान l Oats Side Effect in Hindi

  • ओट्स को पैक करते वक़्त इसमें एक केमिकल का उपयोग करा जाता है जो की हमारे स्वास्थय के लिए नुकसानदायक साबित होते है।
  • इसका अधिक सेवन करने से पाचन तंत्र एवं आंत में समस्याएँ उत्पन्न हो सकती है।

ओट्स क्या चीज से बनता है?

ओट्स ओट ग्रेन यानी की एविना सैटाइवा से बनता है एवं दलिया गेंहू से बनता है। दोनों को ही समान प्रक्रिय से पकाया जाता है। दोनों में मैग्नीशियम, आयरन, कैल्शियम एवं विटामिन बी-6 अधिक मात्रा में पाया जाता है। दोनों में कैलोरिक की मात्रा कम होने के कारण इन दोनों को ही लोग पतले एवं स्वस्थ रहने के लिए खाते हैं।

ओट्स को हिंदी में क्या कहते हैं?

ओट्स को हिंदी में जई कहते है।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

Your email address will not be published.