Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022 | मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है 2022 ?

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022 – आज हम इस आर्टिकल आपको बताने वाले है की मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है और इसके क्या-क्या फायदे है तो दोस्तों अगर आप भी इस मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के बारे में जानने के इच्छुक है तो बने रहिए हमारे साथ इस आर्टिकल के आखिर तक ताकि आपके ज्ञान में और बढ़ोतरी हो।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022 | मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है 2022 ? | Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022 | मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है 2022 ? | Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana kya hai 2022 | मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना क्या है 2022 ? |

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना भारत देश के सबसे बड़े राज्य राजस्थान के मुख्यमंत्री द्वारा प्रारम्भ की गई है , जिसका सिर्फ एक ही उद्देश्य है कि मेधावी एवं आर्थिक रूप से कमजोर जो विद्यार्थी है उनकी सहायता की जाये। जिससे प्रदेश भर के हजारों विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग का लाभ प्राप्त हो रहा है मुख्यमंत्री अनुप्रति योजना के तहत इस वर्ष भी 1 जुलाई से आवेदन प्रारंभ हो चुके हैं जिसकी अंतिम तारीख 31 जुलाई बताई जा रही है। राज्य सरकार द्वारा चयनित कोचिंग संस्थाओ का कहना है कि इस योजना के अंतर्गत प्रत्यक्ष कोचिंग क्लासेज पर इस योजना में चयनित अभ्यार्थियों को फ्री कोचिंग उपलब्ध कराई जाएगी इस योजना के अंतर्गत मेधावी छात्रो को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाएं जैसे :- राजस्थान सिविल सेवा , भारतीय सिविल सेवा , I. I. T. , I. I. M. , C. P. M. T. , N. I. T. एवं राजकीय मेडिकल और इंजीनियरिंग में चयन की तैयारी के लिए राजस्थान सरकार आर्थिक सहायता देगी। इस योजना के लिए अनुसूचित जाति , अनुसूचित जनजाति , विशेष पिछड़ा वर्ग , अन्य पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य वर्ग के बीपीएल परिवार के छात्र और छात्राए आवेदन कर सकते है।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना किस-किस को मिलेंगी

इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति , अनुसूचित जनजाति , विशेष पिछड़ा वर्ग , अन्य पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य वर्ग के बीपीएल कार्ड वाले परिवार जिनकी सालाना कमाई 8 लाख रुपए से भी कम है और आवेदक विद्यार्थी के माता-पिता LEVEL -11 तक का वेतन ले रहे हैं तो ऐसे सभी विद्यार्थी इस योजना के लिए आवेदन दे सकते हैं और ऐसे ही विद्यार्थियों के लिए यह योजना प्रारंभ की गई है इस योजना की घोषणा 6 जून 2021 को राजस्थान सरकार द्वारा की गई थी और यह योजना निरंतर जारी है इस योजना का लाभ उठाने के लिए आप सभी भी अभी आवेदन करें। मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में विभिन्न स्तर पर पास होने वाले अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के मेघावी गरीब विद्यार्थियों को राजस्थान सरकार द्वारा एक – एक लाख रुपए की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाएगी।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के क्या उद्देश्य है

इस योजना का मुख्य उद्देश्य सिर्फ और सिर्फ अनुसूचित जाति , अनुसूचित जनजाति , विशेष पिछड़ा वर्ग , अन्य पिछड़ा वर्ग एवं सामान्य वर्ग के बीपीएल कार्ड वाले परिवार जिनकी सालाना कमाई 8 लाख रुपए से भी कम है और आवेदक विद्यार्थी के माता-पिता LEVEL-11 तक का वेतन ले रहे हैं और वह विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारियां करना चाहते हैं तो उन सभी विद्यार्थियों के लिए राजस्थान सरकार आर्थिक सहायता प्रदान करेगी एवं उन सभी छात्राओं और छात्रों को प्रोत्साहन राशि प्रदान करेगी। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं कि हमारे देश में अनुसूचित जातियों और अनुसूचित जनजाति के नागरिको के परिवारों की स्थिति आर्थिक रूप से कमजोर होती है। जिस वजह से उन सभी परिवारों के बच्चों को ऊंचे लेवल की शिक्षा प्राप्त करने के लिए बहुत ही ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ता है इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए राजस्थान सरकार द्वारा इस मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना को 2022 में भी निरंतर जारी रखने का ऐलान फिर से किया गया है।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के लाभ

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के निम्न लाभ है :-

  • राजस्‍थान राज्य के मुख्य मंत्री जी के द्वारा शुरू की गई Mukhyamantri Anuprati Coaching Yojana Rajasthan का लाभ केवल राजस्थान के अनुसूचित जाति और अनुसूचित जाति के गरीब वर्ग के छात्रों को प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना के तहत शिक्षा के क्षेत्र में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जाति के गरीब लोगों को प्रोत्साहित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान की जाएगी।
  • राजस्थान सरकार के माध्यम से शुरू की गयी इस योजना के तहत राजस्थान के गरीब छात्रों को सेवा आयोग परीक्षा के लिए प्रोत्साहन प्रदान किया जाएगा। मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के माध्यम से सरकार द्वारा आयोजित RPMT / RPET में सफल होने और सरकारी मेडिकल / इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने के बाद, उम्मीदवार को सहायता के रूप में राशि प्रदान की जाएगी।

अनुप्रति कोचिंग योजना में कौन-कौन से कोर्स की तैय्यारी कराई जायगी

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत निम्न कोर्स की तैयारी कराई जायगी :-

  • UPSC द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा कोर्स।
  • इंजीनियरिंग और मेडिकल प्रवेश परीक्षा कोर्स।
  • कांस्टेबल परीक्षा कोर्स।
  • RPFC द्वारा आयोजित RAS परीक्षा कोर्स।
  • क्लैट परीक्षा कोर्स
  • सब इस्पेक्टर परीक्षा कोर्स।
  • REET राजस्थान कर्मचारी चयन आयोग द्वारा मेड पे 2400 या पे मैट्रिक्स लेवल 5 से ऊपर की परीक्षा कोर्स।
  • 3500 पे या पे मैट्रिक्स लेवल 10 से ऊपर की परीक्षा कोर्स।

आदि इन सब कोर्स और परीक्षाओं की तैयारी इस मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत कराई जाती है लेकिन इनकी कोचिंग सिर्फ वही पर लगती है जो राज्य सरकार द्वारा चयनित कोचिंग संस्थाओ द्वारा तय की जाती है।

अनुप्रति कोचिंग योजना के आवेदन के लिए कौन-कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होती है

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के आवेदन के लिए बहुत से प्रूफ की जरुरत होती। क्यों कि इस में आपका पूरा बैकग्राउंड का पता लगाया जाता है ताकि कोई ऐसा व्यक्ति ना रह जाए जो इस योजना का लाभ न ले सके।

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के आवेदन के लिए निम्न दस्तावेजों की आवश्यकता होती है :-

  • आपका आधार कार्ड ( Your Aadhar Card )
  • शपथ पत्र ( Affidavit Card )
  • परिवार का वार्षिक आय प्रमाण पत्र। ( Income Proof Certificate )
  • लाभार्थियो द्वारा पास की गई अलग-अलग प्रतियोगी परीक्षाओं का प्रमाण पत्र। ( Certificate of different competitive examinations passed )
  • सामान्य श्रेणी के आवेदकों के लिए बीपीएल प्रमाण पत्र ( BPL Certificate )
  • जाति प्रमाण पत्र (Caste Certificate )
  • मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी। ( Mobile NO. , Email ID )
  • लाभार्थी छात्र की पासपोर्ट साइज फोटो ( Passport size photograph of the beneficiary student )
  • प्रोफेशनल/तकनीकी पाठ्यक्रमों में राष्‍ट्रीय स्‍तर के शिक्षण संस्‍थानों (योजना में सूचीबद्ध संस्‍थाओं) में प्रवेश पाने के लिए Entrance Exam पास करने एवं एजुकेशनल इंसीटूशन में एडमिशन लेने का प्रमाण पत्र। ( Certificate of taking admission in Educational Institution )

इन सब दस्तावेजों की जरुरत होती है फॉर्म को भरते समय और अगर आपके पास इनमे से कोई सा सर्टीफिकेड या कार्ड नहीं है तो आपको घबराने की कोई जरुरत नहीं है। जब आप फॉर्म को भरवाने के लिए राजस्थान ऑनलाइन प्लेटफार्म पर जाते है तो आप उस फॉर्म को जमा करने वाले व्यक्ति से भी सम्पर्क कर सकते हो।

और अगर आप इस योजना का लाभ घर बैठे उठाना चाहते हो तो इस योजना का लाभ घर बैठे भी उठा सकते हो यानि के आप इस मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के आवेदन को घर बैठे ऑनलाइन भी जमा कर सकते है। इसके लिए आपको बस नीचे दी गयी निम्न स्टेप्स को फॉलो करना होगा। तो आईये देखते है वो कौन-कौन सी स्टेप है :-

  • सबसे पहले अनुप्रति योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाए और वहाँ से राजस्थान अनुप्रति योजना 2022 आवेदन फॉर्म / एप्लीकेशन फॉर्म भरना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज पर “Apply Online / E -Services” के विकल्प को खोजे और “SJMS Portal” के विकल्प को चुने।
  • इसके बाद आपको “Sign Up – Registration” के विकल्प पर जाना होगा और पंजीकरण फॉर्म में पूछी गयी जानकारी देनी होगी ।
  • सफलता पूर्वक पंजीकरण के बाद “Sign-in-Login” के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • लॉगिन करने के बाद अनुप्रति योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन फॉर्म खुल जायेगा।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गयी जानकारी अच्छे से भरे , दी गयी जानकारी की जाँच करें और आवेदन फॉर्म को सबमिट बटन पर क्लिक कर जमा कर दें।
  • इस प्रकार आप राजस्थान अनुप्रति कोचिंग योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते है।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022 में मिलने वाली धन राशि

मुख्यमंत्री अनुप्रति कोचिंग योजना के अंतर्गत अखिल भारतीय सिविल सेवा परीक्षा में विभिन्न स्तर पर पास होने वाले अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के मेघावी गरीब विद्यार्थियों को राजस्थान सरकार द्वारा एक – एक लाख रुपए की प्रोत्साहन धनराशि प्रदान की जाएगी।

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022 में मिलने वाली धन राशि :-

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022
Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022

Mukhyamantri Anuprati Coaching Scheme 2022

Description ( विवरण )Incentives Payments ( प्रोत्साहन राशि )
On passing the preliminary examination ( प्रारम्भिक परीक्षा में उत्‍तीर्ण होने पर ) 65000 रुपये
On passing the main examination ( मुख्य परीक्षा में उत्तीर्ण होने पर )30,000 रुपये
On passing the interview ( साक्षात्कार में उत्तीर्ण होने पर )5000 रुपये
Total amount ( कुल मिलने वाली राशि )1,00000 रुपये

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *