मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi

मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi

मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi

मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi – तो दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi के बारे में बताने वाले है तो आर्टिकल ध्यान से पढ़ियेगा ताकि आपको इसके बारे में सारी जानकारी प्राप्त हो सके तो आइये जानते है, मैडिटेशन कैसे करे और उसके फायदे l Meditation Kaise Kare Aur Uske Fayde in Hindi

Meditation Kya Hai

मेडिटेशन का मतलब है (Meditation Meaning in Hindi) अपने मन को किसी एक जगह, विचार, या काम पर केंद्रित करना। हमारा मन एक ही वक़्त में कई तरह की बातें सोचता है। ऐसे में मन की शांति भंग हो जाती है। ध्यान करने से हमें आतंरिक रूप से शांति का अनुभव होता है। कुछ समय के लिए हमारे सभी तनाव (Depression) एवं चिंता दूर हो जाते है तथा इसका हमारे ऊपर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।

ध्यान एक ऐसी युक्ति है जो आपको मानसिक एवं शारीरिक तौर पर कई प्रकार से सहायता कर सकता है। यह आपकी याददाश्त को तेज करने, तनाव को कम करने एवं एक व्यक्ति के रूप में आपको ज्यादा कुशल और प्रफुल्लित बनाने में मददगार होता है। साथ ही साथ यह क्रोध को आप पर हावी नहीं होने देता। ऐसे ओर भी कई फायदे होते है नियमित ध्यान या मेडिटेशन करने के।

Meditation Kab Aur Kaise Kare एवं Meditation Kaise Shuru Kare ये एक बहुत ही जरुरी एवं महत्वपूर्ण प्रश्न है, जिसका जवाब हम आपको आगे देने जा रहे है। एवं रही बात मेडिटेशन कैसे किया जाता है या Meditation Kaise Kare in Hindi की, तो वो भी हम आपको इसी आर्टिकल में बता रहे है।

Meditation Kaise Kare

ध्यान (Meditation) करने का सबसे सही समय होता है अमृतावेला, यानी सुबह 4-5 बजे का समय एवं नुमाशम, यानि शाम के 6-7 बजे का वक़्त, क्योंकि इस समय चारो और शांति रहती है एवं हमारा मन भी शांत रहता है। ध्यान शुरू करना एक अच्छा फैसला है पर इसे करने के कुछ नियम होते है जैसे- शुरुआत में आपको लंबे वक़्त तक मेडिटेशन से बचना चाहिए, ​भोजन के बाद मेडिटेशन न करें,​ जागरूक एवं सक्रिय रहें, और ​हमेशा खुले वातावरण में ध्यान करें इत्यादि।

ध्यान करने के लिए या मेडिटेशन कैसे करें हिंदी में जानने के लिए निचे दिए गए बिंदुओं को ध्यानपूर्वक पढ़े –

1. Meditation के लिए शांत व खुले स्थान का चुनाव करें।

Meditation किसी शांत और खुले जगह पर ही सबसे अच्छे से हो सकती है। इसलिए ऐसी जगह का चयन करें, जहाँ किसी भी प्रकार का शोर ना हो। शांतिपूर्ण वातावरण ध्यान के अनुभव एवं अधिक आनंदमय बनाता है जिससे आप ऐसा अनुभव करते है जैसे आप किसी ओर ही दुनिया में हो। इसके अलावा अपने चारों तरफ बहने वाली शुद्ध ठंडी हवा एवं पक्षियों के चहचहाट की मधुर आवाज आपके मन में एक अद्भुत ऊर्जा, शांति एवं प्रेम का रस घोल देती है।

2. सही समय का चुनाव करें।

Meditation करने का वैसे तो कोई नियमित वक़्त नहीं होता, पर यदि भौर एवं शाम को मेडिटेशन किया जाए, तो ध्यान ज्यादा अच्छे से लगता है। अगर आप भौर या शाम को Meditation करते है तो आपको शांतिपूर्ण वातावरण मिलता है जिससे आपका मन एकाग्रचित रहता है।

3. कुछ देर शांत और सीधा रहने का अभ्यास करें।

अब अपनी आँखें बंद करके शांति में बैठे। मैडिटेशन करते समय आप एक आरामदायक मुद्रा (Comfortable Posture) में बैठिये, ताकि आपको ज्यादा वक़्त तक बैठने में परेशानी ना हो। हांलांकि रोजाना ध्यान पर बैठने से धीरे-धीरे आपका ध्यान पर बैठने का वक़्त भी बढ़ता जायेगा।

4. अब धीरे-धीरे गहरी लंबी सांस ले।

शुरुआत में आपका मन इधर-उधर जाता है ऐसे में धीरे-धीरे गहरी साँस ले एवं मन को एकाग्रचित रखने का प्रयास करें। धीरे-धीरे आपका मन शांत एवं आपको शारीरिक आराम (Body Relax) मिलता जायेगा। तथा फिर आप अपने मन एवं मस्तिष्क को दोनों आँखों के बिच नियंत्रित कर पाएंगे।

5. अब अपनी सांसों पर ध्यान केंद्रित करें।

श्वास लें एवं छोड़ें के पैटर्न को ध्यान में रखते हुए अपना ध्यान सांस पर केंद्रित करें। आपको अपना पूरा ध्यान दोनों आँखों के बिच में केंद्रित करके रखना है। गहरी सांस लेना एवं छोड़ना नाड़ी शोधन प्राणायाम होता है जिससे साँस की लय स्थिर हो जाती है एवं मन शांतिपूर्ण और एकाग्रचित होकर ध्यान अवस्था में चला जाता है।

यह भी पढ़े :-

Senior Citizen Railway Concession Latest News in Hindi : सीनियर सीटिजन को मिलेगी राहत रेल किराये में
क्या होता हैं नार्को टेस्ट जाने सम्पूर्ण जानकारी डिटेल में : Narco Test Meaning In Hindi

6. चेहरे पर मुस्कराहट रखें।

मेडिटेशन के अनुभव को एवं अच्छा बनाने के लिए चेहरे पर सौम्य मुस्कान अवश्य रखे। इसकी विधि पूरी होने के बाद आंखों को आराम से धीरे-धीरे खोले एवं मन में शांति का अनुभव महसूस करे। निरंतर सौम्य मुस्कान से आप आंतरिक रूप से आराम एवं शांतिपूर्ण महसूस करेंगे, जिससे रोजाना आपके ध्यान का अनुभव एवं गहरा होता जाता है।

Pregnancy Me Meditation Kaise Kare, Deep एवं Mindfulness Meditation Kaise Kare, इन सभी प्रश्नो का जवाब एक यही है।

रही बात Third Eye एवं Om Shanti Meditation Kaise Kare, तो इसके लिए आपको एक शांत जगह ढूंढ़कर बिलकुल Relax होकर बैठना है एवं अपना ध्यान अपनी आँखों के बीच में लगाना है एवं आहिस्ता-आहिस्ता सभी Thoughts को अपने मस्तिष्क से निकालते जाना है।

आप चाहे तो सोते हुए भी ध्यान Meditation लगा सकते है। Sote Hue Meditation Kaise Kare इसका तरीका है किसी शांत जगह पर लेट जाइए, अपनी आँखें बंद कीजिए एवं आहिस्ता -आहिस्ता सांस ले। गहराई से सांस लें एवं छोड़ें। इस बीच यदि आपके मन में किसी भी प्रकार का ख़याल आता है तो अपना ध्यान अपने स्वास पर केंद्रित कर ले। मैडिटेशन करते-करते ही आप सो जाएंगे।

Meditation Ke Fayde

Meditation Doctors के जरिये लगभग सभी Patients को Recommend किया जाता है। ये एक ऐसा इलाज है जिसका कोई Side Effect नहीं है। Stress, Anxiety, Heart Disease, Insomnia, किसी भी प्रकार की परेशानी का ये एक बहुत ही असरदायक इलाज है।

मेडिटेशन के फायदें कुछ इस प्रकार है:

  • Mental एवं Physical Health, दोनों को स्वस्थ रखने में मेडिटेशन काफी सहायता करता है।
  • मेडिटेशन तनाव कम करने में सहायता करता है।
  • यह गलत लतो, जैसे की Smoking, Drinking, नशा, से छुटकारा पाने में भी सहायता करता है।
  • यह आपके Concentration Level (एकाग्रता) को बहुत ज्यादा बढ़ाता है एवं आपको काफ़ी हद तक शांत भी बनाता है।
  • मेडिटेशन करने से अनिंद्रा (Insomnia) की बीमारी में भी काफ़ी राहत मिलती है।
  • मेडिटेशन करने से दिल का दौरा पड़ने का खतरा कम हो जाता है, एवं Blood Pressure एवं Sugar भी Control में रहता है।

यह भी पड़े :

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *