Indira Gandhi Pension Yojana MP, Bihar In Hindi Kya hai

Indira Gandhi Pension Yojana MP, Bihar In Hindi Kya hai

Indira Gandhi Pension Yojana MP, Bihar In Hindi Kya hai

इस आर्टिकल में हम आपको Indira Gandhi Pension Yojana MP, Bihar In Hindi Kya hai से जुड़ी जानकारी देंगे के ज़्यादा उम्र के लोग सरकार की इस स्कीम से कैसे फायदा उठा सकते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देंगे तो आप इस आर्टिकल को पूरा पढ़े और जाने क्या हैं Indira Gandhi Pension Yojana .

भारत के ग्रामीण विकास मंत्रालय ने 2007 में राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (NSAP) के तहत इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना (IGNOAPS) शुरू की थी । IGNOAPS को राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना (NOAPS) भी कहा जाता है। वृद्धावस्था के लिए पेंशन योजना योग्य लोगों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने का प्रयास करती है। हम इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना को गहराई से देखेंगे।

राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी) | National Social Assistance Programme (NSAP)

राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम (एनएसएपी) भारत में कम आय वाले परिवारों को सामाजिक सहायता लाभ प्रदान करता है जिसमें वृद्ध विधवा और विकलांग व्यक्ति शामिल हैं। NSAP का मुख्य लक्ष्य भारत में कार्यक्रम के लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करना है।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना की विशेषताएं | Indira Gandhi Pension Yojana

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना के प्रमुख पहलुओं पर नीचे चर्चा की गई है।

  • IGNOAP योजना के तहत, भारत के बुजुर्ग नागरिक मासिक पेंशन प्राप्त करने में सक्षम होंगे।
  • इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना एक गैर-अंशदान सेवानिवृत्ति पेंशन है। इसका मतलब है कि लाभार्थी को पेंशन प्राप्त करने के लिए कोई राशि नहीं देनी होगी।

पात्रता मानदंड | Indira Gandhi Pension Yojana Eligibility

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित मानदंडों को पूरा किया जाना होगा ।

  • आवेदक की आयु 60 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए। (यह महिला और पुरुष दोनों आवेदकों के लिए लागू है।)
  • आवेदक को सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवार के सदस्यों से संबंधित होना चाहिए।
  • 65 वर्ष की आयु में पेंशन के लिए पात्र होने के लिए आवेदक को जरूरतमंद होना चाहिए और उसके पास परिवार के या अन्य स्रोत से वित्तीय सहायता का कोई स्रोत नहीं होना चाहिए।
  • बीपीएल विधवाएं, और 60-79 वर्ष के आयु वर्ग के भीतर गंभीर या एकाधिक विकलांग बीपीएल व्यक्ति इस योजना में भाग लेने के लिए पात्र नहीं हैं।

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन राशि | Indira Gandhi Pension Yojana Pension Amount

Indira Gandhi National Old Age Pension Amount for seniors is as follows:

क्रमांक बीपीएल नागरिकों की उम्रIGNOA पेंशन राशि
160-79 वर्ष200 रुपये प्रति माह
2उम्र 80 और उससे अधिक500 रुपये प्रति माह

आवश्यक दस्तावेज
इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना में आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेज नीचे दिए गए हैं:

IGNOAP के लिए आवेदन करने के लिए आवेदन पत्र | Indira Gandhi Pension Yojana Pension Document

  • उम्र साबित करने वाले आयु दस्तावेज का दस्तावेज संबंधित चिकित्सा अधिकारी से प्राप्त करना चाहिए, और प्रत्यायोजित ब्लॉक चिकित्सा अधिकारी के माध्यम से सत्यापित किया जाना चाहिए।
  • आय का प्रमाण पत्र प्रदान किया जाना है
  • आवेदक के नाम के साथ गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) कार्ड प्रदान किया जाना चाहिए।
  • बैंक खातों या डाकघर पासबुक के लिए पासबुक
  • पासपोर्ट फोटो का आकार

इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन आवेदन प्रक्रिया | Indira Gandhi Pension Yojana Pension Application Procedure

पात्र व्यक्ति इन चरणों के माध्यम से इंदिरा गांधी राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

सूचना: विभिन्न राज्यों के लिए ऑनलाइन आवेदन के लिए अलग-अलग प्रक्रियाएं और आधिकारिक साइट हैं।

ग्रामीण क्षेत्रों में तुरंत समाज कल्याण कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए अपने समाज कल्याण विभाग में जाएँ और शहरी क्षेत्रों में जिला समाज कल्याण अधिकारी से संपर्क करें।

चरण 1. विशिष्ट क्षेत्र में समाज कल्याण विभाग से एक आवेदन पत्र डाउनलोड करें।

चरण 2. आवेदन पत्र पर सभी विवरण भरें।

  • ब्लॉक, राज्य, जिला और जिले की जानकारी
  • ग्राम का नाम पंचायत
  • सोसायटी का नाम सोसायटी का नाम, लाभार्थी और वारिस
  • घर का नंबर
  • लिंग पुरुष महिला)
  • आयु और जन्म तिथि
  • जन्म प्रमाण पत्र विवरण
  • वार्षिक आय और अधिवास प्रमाण पत्र की जानकारी।
  • ईपीआईसी नंबर (मतदाता पहचान संख्या)

चरण 3. अपना आवेदन और सभी आवश्यक दस्तावेज संबंधित तहसील समाज कल्याण अधिकारियों को जमा करें। आवेदक जो शहरी क्षेत्रों में रहता है, वह सीधे संबंधित जिला समाज कल्याण अधिकारी को फॉर्म जमा कर सकता है।

चरण 4: आवेदन की जांच की जा सकती है, या अधिकारियों द्वारा पुष्टि की जा सकती है

चरण 5.सामाजिक कल्याण विभाग लाभार्थियों को जिला समाज कल्याण अधिकारी के पास रेफर करेगा।

चरण 6 : जिला स्तरीय मंजूरी समिति (DLSC) द्वारा अंतिम निर्णय लिया जाना है।

अपने आवेदन का ऑनलाइन पालन करें

आप केवल NASP की आधिकारिक साइट पर जाकर अपने आवेदन की निगरानी कर सकते हैं।

  • एनएएसपी के लिए होमपेज पर जाएं।
  • होमपेज पर रिपोर्ट चुनें।
  • अब आपको 12 नंबर का ऑप्शन चुन न हैं जिसका नाम एप्लीकेशन ट्रैकर हैं
  • अब आप से वह पर आपका एप्लीकेशन नंबर दाल कर एक कोड डालना होगा और आप देख सकेंगे आपका स्टेटस।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

Your email address will not be published.