Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए

Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए

Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए

Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए – इस आर्टिकल में हम आपको गिलहरी के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने वाले है। तो आर्टिकल पूरा आखिर तक पढियेगा जिससे आपको गिलहरी के बारे में पूरी जानकारी मिल सके।।

Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए
Gilhari Kya khati Hai Hindi Mein Bataiye : गिलहरी क्या खाती है लिखिए

गिलहरी

गिलहरी छोटे और मध्यम आकार के कृंतक प्राणियों की विशाल परिवार की सदस्य हैं जिन्हें स्कियुरिडे भी कहा जाता है इस परिवार में वृक्षारोही गिलहरियां, भू गिलहरियां, चिंपूक, मार्मोट जिसमे वूडचक भी सम्मिलित है उड़न गिलहरी और प्रेयरी भी शामिल है या अमेरिका यूरेशिया और अफ्रीका की मूल निवासी है और ऑस्ट्रेलिया में इन्हें दूसरी जगह से लाया गया है। लगभग 4 करोड़ साल पहले गिलहरियों को पहली बार इयोसीन में साक्ष्यांकित किया गया था और यह जीवित प्रजातियों में से पर्वतीय ऊदबिलाव और डोरमाइस से निकट रूप से संबंध है।

गिलहरी की विशेषताएं

  • गिलहरियों के पिछले अंग आम तौर पर आगे के अंगों से लम्बे होते हैं और उनके एक पैर में चार या पाँच उंगलियाँ होती है। उनके पैरों के पंजो में एक अंगूठा होता है, हालाँकि यह ख़राब रूप से विकसित होता है पैरों के नीचे अन्दर की तरफ मांसल गद्दियाँ पाई जाती हैं।
  • गिलहरी उष्णकटिबंधीय वर्षायुक्त वनों से लेकर अर्धशुष्क रेगिस्तान तक में जीवन व्यतीत कर सकती हैं और यह सिर्फ उच्च ध्रुवीय क्षेत्रों तथा अतिशुष्क स्थानों पर रहने से बचती हैं। यह मुख्य रूप से शाकाहारी होती हैं तथा बादाम और बीजों पर जीवित रहती हैं, इनमे से कई कीड़ों को खाती हैं और कुछ तो छोटे रीढ़धारियों को भी खाती है।
  • गिलहरियों कि उनकी आँखों को देखकर पता चलता है, की इनकी आंखे बहुत अच्छी होती है, जो कि वृक्षों पर रहने वाली प्रजातियों के लिए बहुत ज़रूरी है। चढ़ने और मजबूत पकड़ के लिए इनके पंजे भी बहुत उपयोगी होते हैं। इनमे से कई को अपने ह्रदय तथा अंगों पर स्थित लोम के कारण स्पर्श का भी बहुत अच्छा इन्द्रियबोध होता है।
  • गिलहरी के दांत मूल कृन्तक बनावट के अनुसार होते हैं, जिसमे कुतरने के लिए बड़े दांत होते हैं जो कि जीवन के अनुसार विकसित होते रहते हैं और भोजन को अच्छी तरह से पीसने के लिए पीछे की तरफ कुछ अंतर, या दंतवकाश पर चौघढ़ होता है।

गिलहरी का आहार

खरगोश और हिरन कि तरह, गिलहरियाँ सेल्लुलोस को पचा नहीं पाती है तथा उन्हें प्रोटीन, कार्बोहइड्रेट तथा वसा के आधिक्य वाले आहार पर निर्भर रहना पड़ता है। समशीतोष्ण क्षेत्रों में, गर्मियों का शुरूआती वक़्त गिलहरियों के लिए सर्वाधिक मुश्किल होता है क्यूंकि उस समय बोये गए बादामों के अंकुर फूटते हैं और वह गिलहरियों के खाने के लिए उपलब्ध नहीं होते है, इसके अतिरिक्त इस समय भोजन का कोई अन्य स्रोत भी उपलब्ध नहीं होता है। इस दौरान गिलहरी पमुख रूप से पेड़ों की कलियों पर निर्भर रहती हैं। गिलहरियों के आहार में मुख्यतः अनेकों प्रकार के पौधीय भोजन होते हैं जिसमे कि बादाम, बीज, शंकुल, फल, कवक और हरी सब्जियां सम्मिलित हैं। । हालाँकि कुछ गिलहरियाँ मांस भी खाती है, विशेषकर तब जब कि वह अत्यधिक भूखी होती हैं। गिलहरियाँ कीड़े, अंडे, छोटी चिड़िया, युवा सापो और छोटे क्रिन्तको को खाने के लिए भी जानी जाती हैं। वास्तव में कुछ ध्रुवीय प्रजातियाँ पूरी तरह से कीड़ों के आहार पर ही निर्भर रहती हैं।

भूमि पर रहने वाली गिलहरियों की कई प्रजातियों के द्वारा परभक्षी व्यवहार भी जानकारी में आया है, इनमे से विशेषकर वह भू गिलहरियाँ जिनके शरीर पर 13 धारियां पाई जाती हैं। उदाहरण के लिए, बैले ने एक 13 धारियों वाली भू गिलहरी को एक छोटे चूजे का शिकार करते हुए देखा। विसट्रेंड ने इसी प्रजाति की एक गिलहरी को तुरंत मारा गया सांप खाते हुए देखा। व्हिटेकर ने 139, तेरह धारियों वाली गिलहरियों के पेट का परीक्षण किया और चार नमूनों में उन्हें चिड़िया का मांस मिला जबकि एक में छोटी पूंछ के छछूंदर के अवशेष मिले, ब्रैडली को सफ़ेद पूछ वाली मृग गिलहरी के पेट के परीक्षण के समय, लगभग 609 नमूनों में से 10% में कुछ प्रकार के रीडधारी जंतुओं के अवशेष मिले, जिनमे मुख्यतः कृन्तक और छिपकलियाँ थी। मोर्गार्ट (1985) ने एक सफ़ेद पूंछ वाली मृग गिलहरी को एक छोटे रेशमी चूहे को पकड़ते और खाते हुए देखा।

गिलहरी को सबसे ज्यादा क्या पसंद है?

गिलहरी को लज़ीज़ खानों का लालच दीजिये, जैसे फल और सब्ज़ियाँ आप गिलहरियों के खाने के लिए बाहर अंगूर, सेब, ब्रोकली (Broccoli) तथा तुरई को रख सकते हैं। इन खानों से गिलहरी को ज़रूरी पोषण भी मिल जाएगा और वह ऐसे खाने के लालच में ज़रूर लौटकर आएंगी, जो इन्हें कहीं ओर नहीं मिल सकता।

क्या गिलहरी अनाज खाती है?

गिलहरी आमतौर पर गिरी, बीज, अनाज, फल आदि चीजे खाती है, लेकिन शहरों में रहने वाली गिलहरियां ओर भी चीजों को खाने लगती हैं।

गिलहरी की उम्र कितनी है?

एक गिलहरी की उम्र 9 साल तक होती है।

यह भी पढ़े:

Leave a Comment

Your email address will not be published.