ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi

ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi

ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi

दोस्तों इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi दोस्तो आज जब आप मोबाईल लेते हैं या लेपटॉप कम्प्यूटर लेते हैं तो उससे स्टार्ट करने से पहले वो आपसे ईमेल एड्रेस मांगता हैं , क्योंकि ईमेल एड्रेस के अंदर आपका सारा डाटा होता हैं , अगर आपके पास पुराना ईमेल होता हैं तो आप उससे दाल देते हैं लेकिन अगर पुराना नहीं होता तो उसमे आपको नया ईमेल बनाना पढ़ता हैं।

ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi
ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi

आपका लेपटॉप PC तो बिना ईमेल के एक बार चल भी जाता हैं , लेकिन बिना ईमेल के आपका मोबाईल चल तो जाता हैं लेकिन उसके बहुत सारे फंक्शंस काम नही करते हैं । उसके लिए आपको आपका ईमेल उसमे डालना होता हैं । जिस से आपके वो फंक्शंस काम करने लग जाते हैं ।

जैसे हम बात करें Play Store कि तो आपके मोबाईल के अंदर जो प्लेस्टोर आता हैं जिस से आप हर कोई सी एप डाउनलोड कर सकते हाँ और उसका आनंद उठा सकते हैं लेकिन जब तक आपके प्ले स्टोर में ईमेल आईडी नहीं डालेगा , तब तक आप उस से कोई भी एप डाउनलोड नहीं कर सकते ।

पुराने समय में जब किसी को कोई सन्देश भेजा जाता था तो उस इंसान तक उसे पहुंचने में बहुत ज़्यादा समय लग जाता था और वह भेजने में बड़ी परशानियों का भी सामना करना पढता था , क्योकि उसे वह एक आदमी लेकर जाता जिसे जाने में समय लगता था , लेकिन जब से ईमेल को बनाया गया तब से सन्देश भेजना बहुत ज़्यादा आसान हो गया आज हर को हर कही मैसेज भेज सकता हैं।

ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ?

ई-मेल को बनाने वाले प्रोग्राम का नाम Ray Tomlinson था जिन्होंने 1971 में ईमेल को बनाया था, इलेक्ट्रॉनिक मेल (ई–मेल या ईमेल) इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग करने वाले लोगों के बीच के संदेशों (मेल)को आदान-प्रदान की विधि है ।

ईमेल को तब बनाया गया था जब मेल का मतलब भौतिक(Physical ) तौर पर मेल भेजने के लिए किया जाता था इसीलिए इसका नाम ईमेल (E–mail) रखा गया , उसके बाद से ईमेल का उपयोग बहुत ज्यादा किया जाने लगा यह संचार का माध्यम बन गया था ।

email को अक्सर बहुत सारी प्रक्रियाओं का बुनियादी हिस्सा माना जाता हैं जैसे सरकारी काम , बिजनेस, मंनोरंजन, खेल आदि , इस सभी का बुनियादी हिस्सा हैं क्योंकि यह कुछ ही पलों में एक देश का संदेश दूसरे देश भेज देता हैं , वो भी बिना कोई ज्यादा मेहनत करे ।

ईमेल के माध्यम से आप कहीं भी कभी भी कोई भी किसी को भी सन्देश भेज सकते हैं और ईमेल में बस आपको इंटरनेट लगता हैं और कुछ नहीं ईमेल के लिए जिसे भेजा जाए उसे ऑनलाइन रहना भी ज़रूरी नहीं आप बिना किस परेशानी के किसी को भी ईमेल भेज सकते हो बाद आसानी से कुछ ही पालो में ।

ईमेल एड्रेस उसे कहते हैं जिस सन्देश किसी को भेजते हो ईमेल एड्रेस की सबसे खास बात यह हैं के यह कभी एक जैसी नहीं होती हैं यह अलग अलग प्रकार की होती हैं हर इंसान की अलग तरह की ईमेल एड्रेस होता हैं जिस से उसकी पहचान करी जा सकती हैं आप ईमेल की मदद से मैसेज भेजने के अलावा और भी काम कर सकते हैं , जैसे आप ईमेल के अंदर आपके फोटो वीडियोस भी रख सकते हैं जीन से आप उनका बैकअप बना कर रख सकते हैं अगर आपके मोबाईल से कही कोई फोटो डिलीट हो जाता हैं तो आप उसे ईमेल के अंदर जा कर देख सकते हैं।

ईमेल कैसे काम करता हैं ?

ईमेल SMTP पर काम करता हैं , जैसे भेजने वाला व्यक्ति जिस व्यक्ति को मॉल भेजता हैं तो वह उस भेजे गए व्यक्ति के ईमेल सर्वर की जांच करता हैं , और जब वह मिल जाता हैं तो वह प्राप्त करता को देखता हैं और फिर वह जसे भेजा जाता है उसके ईमेल में जाकर स्टोर हो जाता हैं।

जैसे नाम लीजिये की कोई व्यक्ति user1@gmail .com पर ईमेल भेजता हैं। तो सबसे पहले ईमेल भेजने वाले का सर्वर user2@gmail .com के सर्वर को ढूंढेगा और जब user2@gmail .com का सर्वर मिल जायेगा तो उसके बाद वह username को वेरीफाई करेगा और यह पूरी प्रक्रिया पूरी होने के बाद user2@gmail .com को सन्देश आ चूका होता हैं।

इन्हे भी पढ़े :

ईमेल एड्रेस कैसे बनाये ?

ईमेल एड्रेस को बनान बहुत ही ज़्यादा आसान हैं आप कुछ ही स्टेप को फॉलो कर के ईमेल एड्रेस को बना सकते हैं , और ईमेल एड्रेस को बनाने में कोई शुल्क भी नहीं देना होता हैं यह बिलकुल फ्री होता हैं और इसके अंदर आपको 15GB का storage मुफ्त में मिलता हैं लेकिन अगर आप उस से ज़्यादा रखना चाहते हैं तो आपको वह खरीदना होता हैं जिसके अलग अलग प्रकार के प्लान होते है।

ईमेल एड्रेस को बनाने के लिए निचे दिए गए स्टेप को फॉलो करे

सबसे पहले किसी वेब ब्राउज़र को ओपेन करे और उसके अंदर ईमेल सर्च करे

अब उसके बाद Create An Account पर क्लिक करे

आपको वह दिए गए डिटेल्स भरना होगी जिसमे आपका पहला नाम आपका सरनेम आपका यूजरनाम और आपका पासवर्ड आएगा

ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi
ईमेल एड्रेस क्या होता हैं ? Email Address Kya Hota Hai In Hindi

Next पर क्लिक कर के आपको अपनी कुछ और डिटेल्स भरनी होगी जैसे Phone number, recovery email , date of birth और Gender सभी डिटेल्स भरने के बाद आप नेक्स्ट पर क्लिक करना।

दोस्तों हमने आपको बताये के ईमेल एड्रेस क्या होता हैं और इससे कैसे बनाया जा सकता हाँ और इसके क्या क्या फायदे हैं लेकिन अगर आपको कुछ संह नहीं आया या कुछ और जानकारी ऐना हैं तो आप हमे comment बॉक्स में comment कर के पूछ सकते हैं

Recovery email का मतलब के होता हैं ?

Recovery Email का मतलब होता हैं अगर आप अपने ईमेल अकाउंट का पासवर्ड भूल जाते हैं या आपके अकाउंट में कोई दिक्कत आ जाती हैं तो Recover Email की मदद से आपके Account को रिकवर किया जा सकता हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.