Bermuda Triangle Kya Hai in Hindi : Kaise Dikhta Hai, Rahasya Kya Hai, Andar Kya Hai

Bermuda Triangle Kya Hai in Hindi : Kaise Dikhta Hai, Rahasya Kya Hai, Andar Kya Hai

Bermuda Triangle Kya Hai in Hindi : Kaise Dikhta Hai, Rahasya Kya Hai, Andar Kya Hai

Bermuda Triangle Kya Hai in Hindi : Kaise Dikhta Hai, Rahasya Kya Hai, Andar Kya Hai – तो दोस्तों इस आर्टिकल में हम बरमूडा ट्राइंगल के बारे में बताने वाले है। इसका रहस्य क्या है और इसके अंदर क्या है सभी के बारे में हम इस आर्टिकल के माध्यम से जानकारी प्रदान करने वाले है। तो आइये जानते है क्या है बरमूडा ट्रायंगल

हम अक्सर बरमूडा ट्रायंगल (Bermuda Triangle) के बारे में सुनते हैं एवं नाम सुनकर हमें अचंभा लगता है कि आखिर ये है क्या एवं इसका रहस्य क्या है। साइंस की भाषा में जब हम पढ़ते हैं तो हमें उतना अच्छे से समझ नहीं आता है, पर यदि कोई आम बोलचाल की भाषा में समझा सके तो कितना अच्छा होता। इसलिए हम इस आर्टिकल के माध्यम से आपके लिए लेकर आएं हैं बरमूडा ट्रायंगल की हिस्ट्री एवं उसकी मिस्ट्री बेहद आसान एवं आम बोलचाल की भाषा में जिससे आपको इस विषय को समझने में कोई कठिनाई ना हो।

Bermuda Triangle Kya Hai ? l बरमूडा ट्रायंगल क्या है ?

अटलांटिक महासागर में पांच लाख स्क्वायर किलोमीटर का एक हिस्सा बरमूडा ट्रायंगल कहलाता है। इसे बारमूडा ट्रायंगल इसलिए कहते हैं क्योंकि इसका आकार ट्रायंगल के जैसा है। पर इस बात की कोई पुख्ता जानकारी नहीं है परन्तु हैरत की बात ये है कि पिछले 100 वर्षो में इसमें 75 हवाई जहाज एवं 100 से अधिक छोटे-बड़े जहाज समा चुके हैं एवं 1000 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। यही कारण है कि ये एक मिस्ट्री या रहस्य बना हुआ है। इसे डेविल (राक्षस) ट्रायंगल के नाम से भी जाना जाता। बरमूडा ट्रायंगल (Bermuda Triangle) उत्तर अटलांटिक महासागर में स्थित ब्रिटेन का प्रवासी क्षेत्र है। यह संयुक्त राज्य अमेरिका के पूर्वी तट पर मियामी (फ्लोरिडा) से महज 1770 किलोमीटर एवं हैलिफैक्स, नोवा स्कोटिया, (कनाडा) के दक्षिण में 1350 किलोमीटर (840 मील) की दूरी पर स्थित है। कहा जाता है कि सबसे पहले इसकी खोज या यूं कहिए इसकी जानकारी क्रिस्टोफर कोलंबस ने दुनिया को दी थी। उन्होंने अपने लेखों के द्वारा बताया था कि किस तरह की घटनाएं बरमूडा ट्रायंगल में होती हैं एवं यह एक रास्ता है, जो की एलियंस के बेस तक जाता है।

बरमूडा ट्रायंगल का रहस्य

बरमूडा ट्राएंगल (Bermuda Triangle) को दुनिया की सबसे रहस्यमय जगहों में गिना जाता है। कहा जाता है कि इस क्षेत्र से गुजरने वाला जहाज गायब हो जाता है। उसे अदृश्य शक्तियां अपनी और खींच लेती हैं। पिछले 100 वर्षो के इतिहास में यहां करीब 75 हवाई जहाज (Air Plane) गुम हो चुके हैं एवं 1 हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है।

क्यों गायब हो जाते हैं जहाज?

इस क्षेत्र में जहाजों के गायब होने के कारणों पर कई शोध एवं अध्ययन हुए, परअभी तक स्पष्ट रूप से कुछ पता नहीं चल पाया है। पर जहाजों के गायब होने को लेकर वैज्ञानिक मौसम को इसका जिम्मेदार बताते हैं। बरमूडा ट्रायंगल के आस पास के मौसम पर शोध कर वैज्ञानिकों ने यह पता लगाया कि इस ट्रायंगल के ऊपर खतरनाक हवाएं चलती हैं एवं इनकी रफ्तार 170 मील प्रति घंटे रहती है। जब कोई जहाज इस हवा की चपेट में आता है, तो अपने संतुलन को खो बैठता है, जिसके कारण उनका एक्सीडेंट हो जाता है।

बरमूडा ट्रायंगल (Bermuda Triangle) उत्तर अटलांटिक महासागर में स्थित ब्रिटेन का प्रवासी क्षेत्र है। वैज्ञानिकों का ये भी कहना है कि बरमूडा ट्रायंगल (Bermuda Triangle) में बोहोत भारी चीजों को अपनी तरफ खींच लेने की ताकत बादलों की हेक्सागोनल शेप की वजह से आती है। यह बादल ‘एयर बम’ बनाते हैं। यानि की हवा में बम ब्लास्ट जैसी ताकत पैदा करते हैं। इनके साथ 170 मील (करीब 273 किलोमीटर)/घंटा की रफ्तार वाली हवाएं होती हैं तथा ये बादल एवं हवाएं आपस में मिलकर जब जहाज से टकराते हैं तथा उन्हें खींचकर समुद्र के तल में ले जाते हैं।

यह भी पड़े :

बरमूडा ट्रायंगल कैसे बना था?

बरमूडा ट्रायंगल का इतिहास – बरमूडा ट्रायएंगल अब तक कई जहाजों एवं विमानों को अपने आगोश में ले चुका है, जिसके बारे में कुछ पता नहीं चल पाया। सबसे पहले 1872 में जहाज द मैरी बरमूडा ट्रायंगल में लापता हुआ, जिसके बारे में कुछ पता नहीं चल पाया।

Leave a Comment

Your email address will not be published.